• किसानो के लिए खुशखबरी, इस दिन आ जाएगी पीएम किसान योजना की 12वीं किस्त, जानें किसे नहीं मिलेगी 12वीं किस्त

    Written Byby Admin

    Published onFri, 23 Sep 2022

    किसानो के लिए खुशखबरी, इस दिन आ जाएगी पीएम किसान योजना की 12वीं किस्त, जानें किसे नहीं मिलेगी 12वीं किस्त

    किसानो के लिए आया है बड़ा अपडेट अगर आप भी पीएम किसान योजना (PM Kisan yojana) की 12वीं किस्त का इंतजार कर रहे है। देश के करोड़ो किसानो के लिए खुशखबरी है। इसी महीने देश के करोड़ों किसानों के खाते में 2000 रुपये ट्रांसफर किए जा सकते हैं। किसानों की आमदनी को बढ़ाने के लिए सरकार की ओर से यह खास योजना चलाई जाती है। चलिए जानते है फिर किस दिन आपके अकाउंट में पैसा आ सकते है।

    सितंबर में ही आएगा पैसा!
    केंद्र सरकार की ओर से 12वीं किस्त का पैसा 30 सितंबर तक खातों में आ सकता है। आप अपनी किस्त का स्टेटस चेक कर लीजिए कि आपके खाते में यह पैसा आएगा या फिर नहीं-

    चेक करें पीएम किसान की 12वीं किस्त का स्टेटस-
    सबसे पहले आपको ऑफिशियल वेबसाईट पर जाना होगा।
    होम पेज पर ही आपको Farmer Corner का ऑप्शन मिलेगा. उसमें आपको Beneficiary Status का विकल्प पर जाना होगा।
    उसके बाद एक नया पेज ओपन हो जाएगा।
    उसमें किसान से जो भी जानकारी मांगी गई है उसे फिल कर दीजिए और सबमिट के बटन पर क्लिक कर दीजिए।
    अब आपके सामने Beneficiary Status खुल जाएगा।
    इसमें किसान को किस्त मिली है या नही उसकी भी जानकारी होगी।
    इस तरह से आप Pm Kisan 12th Kist Beneficiary Status चेक कर सकते हो।

    पीएम मोदी ने कही ये बात
    पीएम नरेंद्र मोदी ने किसानों को संबोधित करते हुआ कहा है कि पीएम किसान और एग्रीकल्चर से जुड़ी सरकार की योजनाओं में करोड़ों लाभार्थी आगे बढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। इससे किसानों की आमदनी में तो इजाफा हो ही रहा है। साथ ही देश के कृषि क्षेत्र में भी काफी विकास हो रहा है।

    सरकार देती है 6000 रुपये
    केंद्र सरकार की तरफ से इस योजना को क‍िसान की आर्थ‍िक स्‍थ‍ित‍ि मजबूत करने के ल‍िए शुरू क‍िया गया था। इसमें पात्र क‍िसानों को सालाना 6 हजार रुपये द‍िए जाते हैं, जो क‍ि 2-2 हजार की तीन क‍िस्‍तों में म‍िलते हैं। सरकार की तरफ से पहले भी जानकारी दी गई क‍ि इस बार ब‍िना ई-केवाईसी पूरी हुए क‍िस्‍त नहीं दी जाएगी।

    किसे नहीं मिलेगा 12वीं किस्त का पैसा
    अगर किसान जो खेती तो करता है, लेकिन वह खेत उसके नाम पर न होकर किसी और के नाम पर होगा तब भी उसको फायदा नहीं मिलेगा। अगर कोई किसान किसी दूसरे किसान से जमीन लेकर किराए पर खेती करता है, तो उसे भी इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

    इसके अलावा डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, आर्किटेक्ट्स और वकील जैसे प्रोफेशनल्स को भी योजना का लाभ नहीं मिलेगा, भले ही वो खेती भी करते हों. राज्य/केंद्र सरकार के साथ-साथ पीएसयू और सरकारी स्वायत्त निकायों के सेवारत या सेवानिवृत्त अधिकारी और कर्मचारी होने पर भी योजना के लाभ के दायरे में नहीं आएंगे।

     

Latest Topics