• China Coronavirus: चीन में नए कोरोना मामलों की सुनामी, कई शहरों में लॉकडाउन लगाने की तैयारी

    Written ByDeepika Pandey

    Published onThu, 24 Nov 2022

    China Coronavirus: चीन में नए कोरोना मामलों की सुनामी, कई शहरों में लॉकडाउन लगाने की तैयारी

    China Lockdown: चीन में कोरोना के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. गुरुवार को सामने आए आधिकारिक डेटा में खुलासा हुआ कि चीन में महामारी के शुरू होने के बाद से कोरोना के मामलों रिकॉर्ड उछाल आया है. न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक, कोरोना का प्रसार रोकने के लिए चीन में लॉकडाउन, बड़े स्तर पर टेस्टिंग और यात्रा संबंधी प्रतिबंध लगाए गए हैं.  नेशनल हेल्थ ब्यूरो ने कहा कि चीन में बुधवार को 31,454 नए मामले सामने आए थे, जिसमें से 27,517 में कोई लक्षण नहीं थे. अगर चीन की 1.4 बिलियन की आबादी को देखा जाए तो यह आंकड़ा बेहद कम है लेकिन चीन में इससे खलबली मच गई है. चीन में इसी साल अप्रैल में 29,390 नए मामले सामने आए थे. लेकिन बुधवार के आंकड़ों ने इसे भी पार कर दिया. अप्रैल में चीन की मेगासिटी शंघाई में लॉकडाउन लगा दिया गया था और लोगों के लिए मेडिकल केयर और खाने तक की किल्लत हो गई थी.

    चीन में है जीरो कोविड पॉलिसी

    चीन की जीरो कोविड पॉलिसी के तहत अगर मामूली कोरोना केस भी मिलते हैं तो पूरे शहर की तालाबंदी कर दी जाती है और कोविड पीड़ितों और उनके संपर्क में आने वाले लोगों को सख्त क्वारनटीन में रखा जाता है. चीन में कोरोना के 3 साल पूरे होने वाले हैं. जीरो कोविड नीति के कारण लोगों में आक्रोश है. लोग इसे लेकर सड़कों पर विरोध-प्रदर्शन भी कर चुके हैं. चीन दुनिया की दूसरी बड़ी अर्थव्यवस्था है. कोरोना के कारण उसकी प्रोडक्टिविटी पर बड़ा असर पड़ा है. 

    चाओयांग पर सबसे ज्यादा मार

    बीते मंगलवार को कोरोना से  बीजिंग में दो लोगों की मौत हो गई थी. इसके बाद अधिकारियों ने पार्क, दफ्तरों की बिल्डिंग और शॉपिंग मॉल्स बंद करने के आदेश दिए थे. बीजिंग का सबसे ज्यादा आबादी वाला चाओयांग जिला फुल लॉकडाउन के करीब पहुंच गया है. वहां लोगों से कहा गया है कि जब तक जरूरी न हो, घर से न निकलें. चाओयांग जिले के लगभग 3.5 मिलियन लोग रहते हैं. कोरोना के नए मामलों की सबसे ज्यादा मार इली इलाके पर पड़ी है. सोमवार को बीजिंग में 1,400 से ज्यादा मामले सामने आए थे, जिसमें अकेले चाओयांग में 783 केस पाए गए थे.

Latest Topics