• Hanuman Boy: एक गांव जहां 17 साल के लड़के को हनुमान मानकर की जाती है पूजा

    Written ByDeepika Pandey

    Published onFri, 25 Nov 2022

    Hanuman Boy: एक गांव जहां 17 साल के लड़के को हनुमान मानकर की जाती है पूजा

    Trending News: जन्म के समय से कई बार कुछ ऐसी विकृतियां आ जाती है जिससे कई बार जीवन अभिशाप बन जाता है लेकिन रतलाम के नंदलेटा गांव में एक 17 वर्षीय युवक की शारीरिक विचित्र रचना ने उसे भगवान तुल्य बना दिया. अब इस 17 वर्षीय बच्चे की तुलना हनुमान और जामवंत से की जाती है. दरअसल, रतलाम के नंदलेटा गांव में 17 वर्षीय ललित पाटीदार को जन्म से शरीर व चेहरे पर भूरे बड़े बाल उग आए हैं, जिसके कारण यह विचित्र बच्चा दिखायी देने लगा. शुरुआत में परिवार भी घबराने लगा और बच्चे को काफी समय तक घर में रखा, लेकिन जब बच्चे की पढ़ाई और भविष्य की चिंता ने माता-पिता को घेरा तो उन्होंने हिम्मत कर बच्चे को पढ़ाने के लिए स्कूल भेजा.

    शरीर और चेहरे पर निकल आए कई सारे बाल

    शरीर पर बालों से ढका हुआ देखकर शुरुआत में अन्य बच्चे ललित से डरने लगे. धीरे-धीरे बच्चे और ग्रामीणों ने ललित को अपना प्यार, दुलार और अपनत्व देना शुरू किया. ललित का आत्मविश्वास लौट आया और ग्रामीणों के इस विचित्र बच्चे से स्नेह ने आज ललित को इस चेहरे के साथ दुनिया के सामने आने की हिम्मत लौटायी और आज 17 वर्षीय ललित 12 कक्षा में है और आम लोगों की तरह जीवन जी रहा है. इतना ही नहीं, ललित को अब और ज्यादा सम्मान दिया जा रहा है. कोई ललित के विचित्र स्वरूप की तुलना जामवंत से तो कोई हनुमान से करता है, और कुछ लोग तो ललित की गांव में पूजा भी करते हैं.

    इलाज के लिए प्लास्टिक सर्जरी संभव लेकिन

    ललित आज गांव में जब अपने साथियों के साथ घूमता है तो इसे अपने विचित्र होने का एहसास नहीं होता और पढ़ाई में भी हमेशा अव्वल रहता है. अपने दोस्तों में खेलना-कूदना बेहद पसंद है. ललित के भाई ने बताया कि शुरुआत में लोग और बच्चे ललित से डरते थे लेकिन अब ललित को भगवान तुल्य मानते है अब सारा गांव ललित को बहुत प्यार-दुलार देता है. पूर्व सरपंच इंद्रजीत का कहना है कि ललित के इलाज के लिए सांसद सुधीर गुप्ता से चर्चा की गई थी. बड़े डॉक्टरों के संपर्क से सामने आया कि 21 वर्ष के पहले इलाज असंभव है, इसलिए अब 21 वर्ष की आयु के बाद ही ललित का इलाज संभव है. ललित को अपने इस विचित्र स्वरूप को लेकर भगवान से भी कोई शिकायत नहीं है और अब कुछ सालों बाद ललित का इलाज प्लास्टिक सर्जरी से संभव भी हो सकेगा.

Latest Topics