• Investing Habit: कहीं भी पैसा लगाने से पहले जान लें ये 3 बातें, डूब सकता है सारा इंवेस्टमेंट, हो जाएंगे कंगाल

    Written ByDeepika Pandey

    Published onFri, 25 Nov 2022

    Investing Habit: कहीं भी पैसा लगाने से पहले जान लें ये 3 बातें, डूब सकता है सारा इंवेस्टमेंट, हो जाएंगे कंगाल

    Investment Tips: निवेश करने के लिए जरूरी है कि कुछ आदतों को जरूर अपनाना चाहिए. आइए आज हम आपको निवेश करने की तीन आदतों के बारे में बताते हैं, जिनके जरिए अच्छा मुनाफा हासिल किया जा सकता है.

    Investment: इंवेस्टमेंट करना एक अच्छी आदत है. इससे अपनी बचत पर बेहतर रिटर्न हासिल किया जा सकता है. हालांकि इंवेस्टमेंट करने के लिए भी कुछ आदतें होना काफी जरूरी है. अगर इंवेस्टमेंट करते वक्त निवेश करने की तीन आदतों को फॉलो किया जाए तो वक्त के साथ अच्छा रिटर्न मिल सकता है.

    निवेश करने के लिए जरूरी है कि कुछ आदतों को जरूर अपनाना चाहिए. आइए आज हम आपको निवेश करने की तीन आदतों के बारे में बताते हैं, जिनके जरिए अच्छा मुनाफा हासिल किया जा सकता है.

    रेगुलर इंवेस्टमेंट- अपनी कमाई से बचत करना और उसको इंवेस्ट करना एक अच्छी आदत है. हालांकि इंवेस्टमेंट रेगुलर होना चाहिए, तभी इंवेस्टमेंट के जरिए अच्छा मुनाफा हासिल किया जा सकता है. रेगुलर इंवेस्टमेंट के लिए यह देखें कि आपको कहां-कहां पैसा लगाना है. ऐसे में किसी भी डेडलाइन से बचने के लिए निवेश पहले ही कर दें. अपने खाते से पूर्व निर्धारित राशि को ऑटोमैटिक तरीके से निवेश के लिए ट्रांसफर करने के लिए सेट करें. ऐसे में रेगुलर इंवेस्टमेंट किया जा सकता है.

    डायवर्सिफाई इंवेस्टमेंट- इंवेस्टमेंट के लिए हमेशा एक पोर्टफोलियो को तैयार करें. आपको अपने पोर्टफोलियो को पर्याप्त रूप से डायवर्सिफाई करना चाहिए. इंवेस्टमेंट आपके वित्तीय लक्ष्यों के अनुरूप होना चाहिए. लंबी अवधि के लक्ष्यों के लिए आपको इक्विटी एसेट में ज्यादा निवेश करना चाहिए. अल्पकालिक लक्ष्यों के लिए, आपको अपनी पूंजी को सुरक्षित करने वाली निश्चित आय वाली संपत्तियों पर ध्यान देना चाहिए. एक ऐसा पोर्टफोलियो बनाने के लिए पेशेवर की भी मदद लें, जो आपकी प्रोफाइल के अनुकूल हो.

    इमोशंस पर काबू रखें- इंसान काफी भावुक होता है और इमोशंस के कारण कई गलत फैसले भी ले लेता है. हालांकि इमोशंस हमें महान निवेशक नहीं बनाते हैं. बाजारों के उतार-चढ़ाव डर और लालच को पैदा कर सकते हैं, ऐसे में लोग बाजार के उतार-चढ़ाव को देखकर भी इमोशंस के कारण फैसले ले लेते हैं. जिससे नुकसान भी उठाना पड़ सकता है. ऐसे में इमोशंस पर काबू रखकर 'कम पर खरीदो और ऊंचे पर बेचो' के सिद्धांत पर काम करना चाहिए.

Latest Topics