• Most Expensive Vegetable: ये है दुनिया की सबसे महंगी सब्जी, 1 KG की कीमत सुनकर लोग बोले- इतने में तो सोना-चांदी खरीद लें

    Written ByDeepika Pandey

    Published onFri, 25 Nov 2022

    Most Expensive Vegetable: ये है दुनिया की सबसे महंगी सब्जी, 1 KG की कीमत सुनकर लोग बोले- इतने में तो सोना-चांदी खरीद लें

    Most Expensive Vegetable In The World: सब्जी मार्केट में जब भी आप खरीदारी करने के लिए जाते हैं तो महंगी से महंगी सब्जी आप 100 या 200 रुपये किलो तक की खरीदते हैं. यदि इससे भी ज्यादा महंगी सब्जी होती है तो उसे इग्नोर ही करना पसंद करते हैं. मशरूम जैसी महंगी सब्जियों को भी लोग कभी-कभी ही बनाते हैं. दुनिया में एक ऐसी सब्जी आई है, जिसकी कीमत सुनकर आपके होश फाख्ता हो जाएंगे. इस सब्जी का नाम है 'हॉपशूट्स' (Hopshoots), जो यूरोपीय देशों में बेहद पॉपुलर है 

    सब्जी की कीमत जानकर उड़ जाएंगे होश

    इस महंगी सब्जी की कीमत लगभग 85,000 रुपये प्रति किलो है और इस सब्जी की खेती आमतौर पर भारत में नहीं की जाती है. कई मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यह पहली बार हिमाचल प्रदेश के खेतों में लगाया गया था. एक रिपोर्ट के मुताबिक, हॉप शूट कटाई के लिए बैक-ब्रेकिंग (Back-Breaking) हैं और यही एकमात्र कारण है कि हॉपशूट की कीमत इतनी महंगी है. हॉप शूट की कीमत उनकी क्वालिटी के साथ बदलती रहती है. महंगी होने के साथ ही यह सब्जी किसी भी मार्केट में आसानी से उपलब्ध भी नहीं होती. 

    इतने में खरीद सकते हैं सोना-चांदी

    इस महंगी सब्जी का वैज्ञानिक नाम Humulus lupulus है और यह एक बारहमासी पर्वतारोही पौधा है. यूरोप और उत्तरी अमेरिका के मूल निवासियों ने दुनिया की सबसे महंगी सब्जी की खेती करना शुरू की थी. यह मध्यम गति से 6 मीटर (19 फीट 8 इंच) तक बढ़ सकता है और इतना ही नहीं, करीब 20 साल तक जीवित रह सकता है. गार्जियन की एक रिपोर्ट के अनुसार, हॉप शूट को कटाई के लिए तैयार होने में तीन साल लगते हैं. इस पौधे की कटाई के लिए काफी शारीरिक श्रम की आवश्यकता होती है, क्योंकि पौधे की छोटी हरी युक्तियों को तोड़ते समय बहुत अधिक देखभाल की आवश्यकता होती है.

    क्या हैं शूपहॉप्स के स्वास्थ्य लाभ?

    चिकित्सा अध्ययनों के अनुसार, यह सुझाव दिया गया है कि यह सब्जी ट्यूबरक्लोसिस के खिलाफ एंटीबॉडी बना सकती है और चिंता, नींद न आना (अनिद्रा), बेचैनी, तनाव, अटेंशन डेफिसिट-हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर (ADHD), घबराहट और चिड़चिड़ापन से पीड़ित लोगों की मदद भी कर सकती है.

Latest Topics