• मेरी कहानी: मेरी पत्नी मुझे निकम्मा और नाकारा समझती है, जिसमें मेरी कोई गलती भी नहीं है
     

    Written ByDeepika Pandey

    Published onTue, 22 Nov 2022

    मेरी कहानी: मेरी पत्नी मुझे निकम्मा और नाकारा समझती है, जिसमें मेरी कोई गलती भी नहीं है

    मैं एक शादीशुदा आदमी हूं। मैंने अपनी पत्नी से अरेंज मैरिज की थी। हमारे वैवाहिक जीवन में किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं थी, लेकिन जब महामारी के कारण मेरी नौकरी चली गई, तब सब कुछ बदल गया। दरअसल, मेरी पत्नी ने न केवल मुझे लूजर कहना शुरू कर दिया बल्कि वह अब पहले की तरह मेरी इज़्जत भी नहीं करती। इसके पीछे का बड़ा कारण यह भी है कि वह एक बहुत अमीर परिवार से आती है। पैसा उसके लिए कभी भी चिंता का विषय नहीं रहा। यही एक वजह भी है कि उसने मेरी तुलना अपने दोस्तों के पतियों से करनी शुरू कर दी है।


    अमेज़न आपके लिए शानदार कीमतों पर टीवी लेकर आया है, Redmi, OnePlus और अन्य जैसे ब्रांडों पर भारी छूट के साथ अपने और अपने परिवार के देखने के अनुभव को अपग्रेड करें |
    हालांकि, नौकरी से निकाले जाने से पहले मैं भी पैसे कमा रहा था। लेकिन कोरोना काल में जब कंपनी ने छटनी की, तो मेरी नौकरी चली गई। अभी उसकी सभी दोस्तों के पतियों के पास अच्छी नौकरी है।

    ऐसे में वह हमेशा मुझे ताने मारती रहती है। इतना ही नहीं हमारे बीच झगड़े भी काफी बढ़ गए हैं। लेकिन हाल ही में मुझे नई नौकरी मिल गई। लेकिन इसमें मेरी सैलरी कम है, जिसकी वजह से भी हमारा रिश्ता खराब हो रहा है। मैं आपसे छिपाना नहीं चाहता जब तक मैं कमा रहा था, सब बढ़िया था। लेकिन अब जब हालात बदल चुके हैं, तो वह मुझे निकम्मा और नाकारा समझने लगी है। मुझे समझ नहीं आ रहा कि मैं इस स्थिति से कैसे निपटूं? (सभी तस्वीरें सांकेतिक हैं, हम यूजर्स द्वारा शेयर की गई स्टोरी में उनकी पहचान गुप्त रखते हैं)
    एक्सपर्ट का जवाब

     मैं एक शादीशुदा आदमी हूं। मैंने अपनी पत्नी से अरेंज मैरिज की थी। हमारे वैवाहिक जीवन में किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं थी, लेकिन जब महामारी के कारण मेरी नौकरी चली गई, तब सब कुछ बदल गया। दरअसल, मेरी पत्नी ने न केवल मुझे लूजर कहना शुरू कर दिया बल्कि वह अब पहले की तरह मेरी इज़्जत भी नहीं करती। इसके पीछे का बड़ा कारण यह भी है कि वह एक बहुत अमीर परिवार से आती है। पैसा उसके लिए कभी भी चिंता का विषय नहीं रहा। यही एक वजह भी है कि उसने मेरी तुलना अपने दोस्तों के पतियों से करनी शुरू कर दी है। अमेज़न आपके लिए शानदार कीमतों पर टीवी लेकर आया है, Redmi, OnePlus और अन्य जैसे ब्रांडों पर भारी छूट के साथ अपने और अपने परिवार के देखने के अनुभव को अपग्रेड करें | हालांकि, नौकरी से निकाले जाने से पहले मैं भी पैसे कमा रहा था। लेकिन कोरोना काल में जब कंपनी ने छटनी की, तो मेरी नौकरी चली गई। अभी उसकी सभी दोस्तों के पतियों के पास अच्छी नौकरी है। ऐसे में वह हमेशा मुझे ताने मारती रहती है। इतना ही नहीं हमारे बीच झगड़े भी काफी बढ़ गए हैं। लेकिन हाल ही में मुझे नई नौकरी मिल गई। लेकिन इसमें मेरी सैलरी कम है, जिसकी वजह से भी हमारा रिश्ता खराब हो रहा है। मैं आपसे छिपाना नहीं चाहता जब तक मैं कमा रहा था, सब बढ़िया था। लेकिन अब जब हालात बदल चुके हैं, तो वह मुझे निकम्मा और नाकारा समझने लगी है। मुझे समझ नहीं आ रहा कि मैं इस स्थिति से कैसे निपटूं? (सभी तस्वीरें सांकेतिक हैं, हम यूजर्स द्वारा शेयर की गई स्टोरी में उनकी पहचान गुप्त रखते हैं) एक्सपर्ट का जवाब प्रिडिक्शन फॉर सक्सेस के संस्थापक और रिलेशनशिप कोच विशाल भारद्वाज कहते हैं कि मैं आपकी परेशानी से अच्छे से वाकिफ हूं। मैं समझ सकता हूं कि आप कैसा फील कर रहे होंगे। लेकिन आपको बता दूं कि चाणक्य नीति का कहना है कि एक महिला का असली चरित्र पति की गरीबी के दौरान ही सामने आता है जबकि पुरुष का चरित्र तब पता चलता है, जब उसकी पत्नी बीमार होती है। खैर, आज का समय चाणक्य नीति पर चलने वाला नहीं रह गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि पहले के समय में महिलाओं को अपनी देखभाल के लिए पुरुषों की जरूरत होती थी, लेकिन आज ऐसा नहीं हैं। महिलाएं न केवल खुद अपने करियर में बहुत अच्छा कर रही हैं बल्कि कुछ मामलों में वह मर्दों से आगे भी हैं। यही एक वजह भी है कि जब आपकी नौकरी गई, तो आपकी पत्नी आपकी काबिलियत पर सवाल उठाने लगी। मेरी कहानी: मेरे घरवाले मुझे शादी करने के लिए मजबूर कर रहे हैं, लेकिन इस एक वजह से मैं इस रिश्ते में नहीं बंध सकता लाइफ में आगे बढ़ने की सोचें आपकी सभी बातों को सुनने के बाद मैं आपसे केवल इतना कहना चाहता हूं कि एक बुरा पेशेवर दौर हर किसी के जीवन में आता है, लेकिन इसे खुद पर हावी नहीं होने देना है। इस दौरान आपको पूरी तरह इस बात पर ध्यान देना है कि आप अपनी लाइफ में आगे कैसे बढ़ सकते हैं। आपके लिए कौन क्या कहता है? इस पर बिल्कुल भी ध्यान न लगाएं। अपनी पूरी ऊर्जा अपने लक्ष्यों पर केंद्रित करें। आप फिलहाल जो भी काम कर रहे हैं, उसमें आगे बढ़ने की सोचें। यही नहीं, इस दौरान आप कहीं दूसरी जगह भी अच्छी नौकरी ढूंढ सकते हैं ताकि आपकी शादीशुदा जिंदगी पहले की तरह प्यार की पटरी पर आ जाए। मेरी कहानी: मेरी पत्नी की मां मेरे साथ बदतमीजी करती है, समझ नहीं आ रहा कि उससे कैसे निपटूं? पत्नी से करनी पड़ेगी बात इसी विषय परएआईआर इंस्टीट्यूट ऑफ रियलाइजेशन एंड एआईआर सेंटर ऑफ एनलाइटनमेंट के संस्थापक रवि कहते हैं कि जैसा कि आपने बताया कि आपकी पत्नी आपको लूजर कह रही है, तो क्या यह केवल नौकरी छूटने की वजह से है या इसके अलावा भी कोई और वजह है। आपने यह भी कहा कि जब तक आपकी नौकरी थी, तब तक सबकुछ बढ़िया चल रहा था। ऐसे में मैं आपसे यही कहूंगा कि हर कोई हमेशा परफेक्ट नहीं होता है। लाइफ में उतार-चढ़ाव आते ही रहते हैं। लेकिन इसी समय हमें हिम्मत से काम लेना है। ऐसा इसलिए क्योंकि विवाह दो व्यक्तियों का मिलन है। यह रिश्ता तब तक सही नहीं चलेगा, जब दो लोग इसमें एक होने के बजाए दो रहेंगे। इस बंधन को मजबूत बनाने के लिए संचार-प्रेम और सम्मान की जरूरत होती है। ऐसे में सबसे अच्छा तो यही है कि आप एक बार अपनी पत्नी से बात करें। उन्हें बताएं कि आप भले ही अपनी नौकरी खो चुके हैं, लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल भी नहीं है कि आप कोई दूसरा काम नहीं कर सकते हैं। इतना ही नहीं, उनसे यह भी कहें कि जब तक आपको उपयुक्त अवसर नहीं मिल जाता, तब तक वह आपके काम करने और खर्चों में योगदान देने की कोशिश करें। मैं आपसे ऐसा करने के लिए इसलिए कह रहा हूं कि क्योंकि आपकी पत्नी ने आपको एक हारे हुए व्यक्ति के रूप में देखा है। उन्होंने देखा कि आप एक झटके के साथ अपना साहस और आत्मविश्वास खो देते हैं। ऐसे में उन्हें दोष देने के बजाए बेहतर नौकरी पाने के लिए और अपनी शादी को बचाने के लिए लड़ें। अपना बेस्ट दें और अपनी शादी को पहले की तरह मजेदार बनाएं। मेरी कहानी: मैंने अपनी पत्नी को 15 साल छोटे लड़के के साथ एक होटल में रात बिताते हुए पकड़ लिया, समझ नहीं आ रहा क्या करूं?
    प्रिडिक्शन फॉर सक्सेस के संस्थापक और रिलेशनशिप कोच विशाल भारद्वाज कहते हैं कि मैं आपकी परेशानी से अच्छे से वाकिफ हूं। मैं समझ सकता हूं कि आप कैसा फील कर रहे होंगे। लेकिन आपको बता दूं कि चाणक्य नीति का कहना है कि एक महिला का असली चरित्र पति की गरीबी के दौरान ही सामने आता है जबकि पुरुष का चरित्र तब पता चलता है, जब उसकी पत्नी बीमार होती है। खैर, आज का समय चाणक्य नीति पर चलने वाला नहीं रह गया है।


    ऐसा इसलिए क्योंकि पहले के समय में महिलाओं को अपनी देखभाल के लिए पुरुषों की जरूरत होती थी, लेकिन आज ऐसा नहीं हैं। महिलाएं न केवल खुद अपने करियर में बहुत अच्छा कर रही हैं बल्कि कुछ मामलों में वह मर्दों से आगे भी हैं। यही एक वजह भी है कि जब आपकी नौकरी गई, तो आपकी पत्नी आपकी काबिलियत पर सवाल उठाने लगी।
    मेरी कहानी: मेरे घरवाले मुझे शादी करने के लिए मजबूर कर रहे हैं, लेकिन इस एक वजह से मैं इस रिश्ते में नहीं बंध सकता
    लाइफ में आगे बढ़ने की सोचें

     मैं एक शादीशुदा आदमी हूं। मैंने अपनी पत्नी से अरेंज मैरिज की थी। हमारे वैवाहिक जीवन में किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं थी, लेकिन जब महामारी के कारण मेरी नौकरी चली गई, तब सब कुछ बदल गया। दरअसल, मेरी पत्नी ने न केवल मुझे लूजर कहना शुरू कर दिया बल्कि वह अब पहले की तरह मेरी इज़्जत भी नहीं करती। इसके पीछे का बड़ा कारण यह भी है कि वह एक बहुत अमीर परिवार से आती है। पैसा उसके लिए कभी भी चिंता का विषय नहीं रहा। यही एक वजह भी है कि उसने मेरी तुलना अपने दोस्तों के पतियों से करनी शुरू कर दी है। अमेज़न आपके लिए शानदार कीमतों पर टीवी लेकर आया है, Redmi, OnePlus और अन्य जैसे ब्रांडों पर भारी छूट के साथ अपने और अपने परिवार के देखने के अनुभव को अपग्रेड करें | हालांकि, नौकरी से निकाले जाने से पहले मैं भी पैसे कमा रहा था। लेकिन कोरोना काल में जब कंपनी ने छटनी की, तो मेरी नौकरी चली गई। अभी उसकी सभी दोस्तों के पतियों के पास अच्छी नौकरी है। ऐसे में वह हमेशा मुझे ताने मारती रहती है। इतना ही नहीं हमारे बीच झगड़े भी काफी बढ़ गए हैं। लेकिन हाल ही में मुझे नई नौकरी मिल गई। लेकिन इसमें मेरी सैलरी कम है, जिसकी वजह से भी हमारा रिश्ता खराब हो रहा है। मैं आपसे छिपाना नहीं चाहता जब तक मैं कमा रहा था, सब बढ़िया था। लेकिन अब जब हालात बदल चुके हैं, तो वह मुझे निकम्मा और नाकारा समझने लगी है। मुझे समझ नहीं आ रहा कि मैं इस स्थिति से कैसे निपटूं? (सभी तस्वीरें सांकेतिक हैं, हम यूजर्स द्वारा शेयर की गई स्टोरी में उनकी पहचान गुप्त रखते हैं) एक्सपर्ट का जवाब प्रिडिक्शन फॉर सक्सेस के संस्थापक और रिलेशनशिप कोच विशाल भारद्वाज कहते हैं कि मैं आपकी परेशानी से अच्छे से वाकिफ हूं। मैं समझ सकता हूं कि आप कैसा फील कर रहे होंगे। लेकिन आपको बता दूं कि चाणक्य नीति का कहना है कि एक महिला का असली चरित्र पति की गरीबी के दौरान ही सामने आता है जबकि पुरुष का चरित्र तब पता चलता है, जब उसकी पत्नी बीमार होती है। खैर, आज का समय चाणक्य नीति पर चलने वाला नहीं रह गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि पहले के समय में महिलाओं को अपनी देखभाल के लिए पुरुषों की जरूरत होती थी, लेकिन आज ऐसा नहीं हैं। महिलाएं न केवल खुद अपने करियर में बहुत अच्छा कर रही हैं बल्कि कुछ मामलों में वह मर्दों से आगे भी हैं। यही एक वजह भी है कि जब आपकी नौकरी गई, तो आपकी पत्नी आपकी काबिलियत पर सवाल उठाने लगी। मेरी कहानी: मेरे घरवाले मुझे शादी करने के लिए मजबूर कर रहे हैं, लेकिन इस एक वजह से मैं इस रिश्ते में नहीं बंध सकता लाइफ में आगे बढ़ने की सोचें आपकी सभी बातों को सुनने के बाद मैं आपसे केवल इतना कहना चाहता हूं कि एक बुरा पेशेवर दौर हर किसी के जीवन में आता है, लेकिन इसे खुद पर हावी नहीं होने देना है। इस दौरान आपको पूरी तरह इस बात पर ध्यान देना है कि आप अपनी लाइफ में आगे कैसे बढ़ सकते हैं। आपके लिए कौन क्या कहता है? इस पर बिल्कुल भी ध्यान न लगाएं। अपनी पूरी ऊर्जा अपने लक्ष्यों पर केंद्रित करें। आप फिलहाल जो भी काम कर रहे हैं, उसमें आगे बढ़ने की सोचें। यही नहीं, इस दौरान आप कहीं दूसरी जगह भी अच्छी नौकरी ढूंढ सकते हैं ताकि आपकी शादीशुदा जिंदगी पहले की तरह प्यार की पटरी पर आ जाए। मेरी कहानी: मेरी पत्नी की मां मेरे साथ बदतमीजी करती है, समझ नहीं आ रहा कि उससे कैसे निपटूं? पत्नी से करनी पड़ेगी बात इसी विषय परएआईआर इंस्टीट्यूट ऑफ रियलाइजेशन एंड एआईआर सेंटर ऑफ एनलाइटनमेंट के संस्थापक रवि कहते हैं कि जैसा कि आपने बताया कि आपकी पत्नी आपको लूजर कह रही है, तो क्या यह केवल नौकरी छूटने की वजह से है या इसके अलावा भी कोई और वजह है। आपने यह भी कहा कि जब तक आपकी नौकरी थी, तब तक सबकुछ बढ़िया चल रहा था। ऐसे में मैं आपसे यही कहूंगा कि हर कोई हमेशा परफेक्ट नहीं होता है। लाइफ में उतार-चढ़ाव आते ही रहते हैं। लेकिन इसी समय हमें हिम्मत से काम लेना है। ऐसा इसलिए क्योंकि विवाह दो व्यक्तियों का मिलन है। यह रिश्ता तब तक सही नहीं चलेगा, जब दो लोग इसमें एक होने के बजाए दो रहेंगे। इस बंधन को मजबूत बनाने के लिए संचार-प्रेम और सम्मान की जरूरत होती है। ऐसे में सबसे अच्छा तो यही है कि आप एक बार अपनी पत्नी से बात करें। उन्हें बताएं कि आप भले ही अपनी नौकरी खो चुके हैं, लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल भी नहीं है कि आप कोई दूसरा काम नहीं कर सकते हैं। इतना ही नहीं, उनसे यह भी कहें कि जब तक आपको उपयुक्त अवसर नहीं मिल जाता, तब तक वह आपके काम करने और खर्चों में योगदान देने की कोशिश करें। मैं आपसे ऐसा करने के लिए इसलिए कह रहा हूं कि क्योंकि आपकी पत्नी ने आपको एक हारे हुए व्यक्ति के रूप में देखा है। उन्होंने देखा कि आप एक झटके के साथ अपना साहस और आत्मविश्वास खो देते हैं। ऐसे में उन्हें दोष देने के बजाए बेहतर नौकरी पाने के लिए और अपनी शादी को बचाने के लिए लड़ें। अपना बेस्ट दें और अपनी शादी को पहले की तरह मजेदार बनाएं। मेरी कहानी: मैंने अपनी पत्नी को 15 साल छोटे लड़के के साथ एक होटल में रात बिताते हुए पकड़ लिया, समझ नहीं आ रहा क्या करूं?
    आपकी सभी बातों को सुनने के बाद मैं आपसे केवल इतना कहना चाहता हूं कि एक बुरा पेशेवर दौर हर किसी के जीवन में आता है, लेकिन इसे खुद पर हावी नहीं होने देना है। इस दौरान आपको पूरी तरह इस बात पर ध्यान देना है कि आप अपनी लाइफ में आगे कैसे बढ़ सकते हैं। आपके लिए कौन क्या कहता है? इस पर बिल्कुल भी ध्यान न लगाएं।


    अपनी पूरी ऊर्जा अपने लक्ष्यों पर केंद्रित करें। आप फिलहाल जो भी काम कर रहे हैं, उसमें आगे बढ़ने की सोचें। यही नहीं, इस दौरान आप कहीं दूसरी जगह भी अच्छी नौकरी ढूंढ सकते हैं ताकि आपकी शादीशुदा जिंदगी पहले की तरह प्यार की पटरी पर आ जाए।


    मेरी कहानी: मेरी पत्नी की मां मेरे साथ बदतमीजी करती है, समझ नहीं आ रहा कि उससे कैसे निपटूं?
    पत्नी से करनी पड़ेगी बात

     मैं एक शादीशुदा आदमी हूं। मैंने अपनी पत्नी से अरेंज मैरिज की थी। हमारे वैवाहिक जीवन में किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं थी, लेकिन जब महामारी के कारण मेरी नौकरी चली गई, तब सब कुछ बदल गया। दरअसल, मेरी पत्नी ने न केवल मुझे लूजर कहना शुरू कर दिया बल्कि वह अब पहले की तरह मेरी इज़्जत भी नहीं करती। इसके पीछे का बड़ा कारण यह भी है कि वह एक बहुत अमीर परिवार से आती है। पैसा उसके लिए कभी भी चिंता का विषय नहीं रहा। यही एक वजह भी है कि उसने मेरी तुलना अपने दोस्तों के पतियों से करनी शुरू कर दी है। अमेज़न आपके लिए शानदार कीमतों पर टीवी लेकर आया है, Redmi, OnePlus और अन्य जैसे ब्रांडों पर भारी छूट के साथ अपने और अपने परिवार के देखने के अनुभव को अपग्रेड करें | हालांकि, नौकरी से निकाले जाने से पहले मैं भी पैसे कमा रहा था। लेकिन कोरोना काल में जब कंपनी ने छटनी की, तो मेरी नौकरी चली गई। अभी उसकी सभी दोस्तों के पतियों के पास अच्छी नौकरी है। ऐसे में वह हमेशा मुझे ताने मारती रहती है। इतना ही नहीं हमारे बीच झगड़े भी काफी बढ़ गए हैं। लेकिन हाल ही में मुझे नई नौकरी मिल गई। लेकिन इसमें मेरी सैलरी कम है, जिसकी वजह से भी हमारा रिश्ता खराब हो रहा है। मैं आपसे छिपाना नहीं चाहता जब तक मैं कमा रहा था, सब बढ़िया था। लेकिन अब जब हालात बदल चुके हैं, तो वह मुझे निकम्मा और नाकारा समझने लगी है। मुझे समझ नहीं आ रहा कि मैं इस स्थिति से कैसे निपटूं? (सभी तस्वीरें सांकेतिक हैं, हम यूजर्स द्वारा शेयर की गई स्टोरी में उनकी पहचान गुप्त रखते हैं) एक्सपर्ट का जवाब प्रिडिक्शन फॉर सक्सेस के संस्थापक और रिलेशनशिप कोच विशाल भारद्वाज कहते हैं कि मैं आपकी परेशानी से अच्छे से वाकिफ हूं। मैं समझ सकता हूं कि आप कैसा फील कर रहे होंगे। लेकिन आपको बता दूं कि चाणक्य नीति का कहना है कि एक महिला का असली चरित्र पति की गरीबी के दौरान ही सामने आता है जबकि पुरुष का चरित्र तब पता चलता है, जब उसकी पत्नी बीमार होती है। खैर, आज का समय चाणक्य नीति पर चलने वाला नहीं रह गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि पहले के समय में महिलाओं को अपनी देखभाल के लिए पुरुषों की जरूरत होती थी, लेकिन आज ऐसा नहीं हैं। महिलाएं न केवल खुद अपने करियर में बहुत अच्छा कर रही हैं बल्कि कुछ मामलों में वह मर्दों से आगे भी हैं। यही एक वजह भी है कि जब आपकी नौकरी गई, तो आपकी पत्नी आपकी काबिलियत पर सवाल उठाने लगी। मेरी कहानी: मेरे घरवाले मुझे शादी करने के लिए मजबूर कर रहे हैं, लेकिन इस एक वजह से मैं इस रिश्ते में नहीं बंध सकता लाइफ में आगे बढ़ने की सोचें आपकी सभी बातों को सुनने के बाद मैं आपसे केवल इतना कहना चाहता हूं कि एक बुरा पेशेवर दौर हर किसी के जीवन में आता है, लेकिन इसे खुद पर हावी नहीं होने देना है। इस दौरान आपको पूरी तरह इस बात पर ध्यान देना है कि आप अपनी लाइफ में आगे कैसे बढ़ सकते हैं। आपके लिए कौन क्या कहता है? इस पर बिल्कुल भी ध्यान न लगाएं। अपनी पूरी ऊर्जा अपने लक्ष्यों पर केंद्रित करें। आप फिलहाल जो भी काम कर रहे हैं, उसमें आगे बढ़ने की सोचें। यही नहीं, इस दौरान आप कहीं दूसरी जगह भी अच्छी नौकरी ढूंढ सकते हैं ताकि आपकी शादीशुदा जिंदगी पहले की तरह प्यार की पटरी पर आ जाए। मेरी कहानी: मेरी पत्नी की मां मेरे साथ बदतमीजी करती है, समझ नहीं आ रहा कि उससे कैसे निपटूं? पत्नी से करनी पड़ेगी बात इसी विषय परएआईआर इंस्टीट्यूट ऑफ रियलाइजेशन एंड एआईआर सेंटर ऑफ एनलाइटनमेंट के संस्थापक रवि कहते हैं कि जैसा कि आपने बताया कि आपकी पत्नी आपको लूजर कह रही है, तो क्या यह केवल नौकरी छूटने की वजह से है या इसके अलावा भी कोई और वजह है। आपने यह भी कहा कि जब तक आपकी नौकरी थी, तब तक सबकुछ बढ़िया चल रहा था। ऐसे में मैं आपसे यही कहूंगा कि हर कोई हमेशा परफेक्ट नहीं होता है। लाइफ में उतार-चढ़ाव आते ही रहते हैं। लेकिन इसी समय हमें हिम्मत से काम लेना है। ऐसा इसलिए क्योंकि विवाह दो व्यक्तियों का मिलन है। यह रिश्ता तब तक सही नहीं चलेगा, जब दो लोग इसमें एक होने के बजाए दो रहेंगे। इस बंधन को मजबूत बनाने के लिए संचार-प्रेम और सम्मान की जरूरत होती है। ऐसे में सबसे अच्छा तो यही है कि आप एक बार अपनी पत्नी से बात करें। उन्हें बताएं कि आप भले ही अपनी नौकरी खो चुके हैं, लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल भी नहीं है कि आप कोई दूसरा काम नहीं कर सकते हैं। इतना ही नहीं, उनसे यह भी कहें कि जब तक आपको उपयुक्त अवसर नहीं मिल जाता, तब तक वह आपके काम करने और खर्चों में योगदान देने की कोशिश करें। मैं आपसे ऐसा करने के लिए इसलिए कह रहा हूं कि क्योंकि आपकी पत्नी ने आपको एक हारे हुए व्यक्ति के रूप में देखा है। उन्होंने देखा कि आप एक झटके के साथ अपना साहस और आत्मविश्वास खो देते हैं। ऐसे में उन्हें दोष देने के बजाए बेहतर नौकरी पाने के लिए और अपनी शादी को बचाने के लिए लड़ें। अपना बेस्ट दें और अपनी शादी को पहले की तरह मजेदार बनाएं। मेरी कहानी: मैंने अपनी पत्नी को 15 साल छोटे लड़के के साथ एक होटल में रात बिताते हुए पकड़ लिया, समझ नहीं आ रहा क्या करूं?
    इसी विषय परएआईआर इंस्टीट्यूट ऑफ रियलाइजेशन एंड एआईआर सेंटर ऑफ एनलाइटनमेंट के संस्थापक रवि कहते हैं कि जैसा कि आपने बताया कि आपकी पत्नी आपको लूजर कह रही है,

    तो क्या यह केवल नौकरी छूटने की वजह से है या इसके अलावा भी कोई और वजह है। आपने यह भी कहा कि जब तक आपकी नौकरी थी, तब तक सबकुछ बढ़िया चल रहा था। ऐसे में मैं आपसे यही कहूंगा कि हर कोई हमेशा परफेक्ट नहीं होता है।


    लाइफ में उतार-चढ़ाव आते ही रहते हैं। लेकिन इसी समय हमें हिम्मत से काम लेना है। ऐसा इसलिए क्योंकि विवाह दो व्यक्तियों का मिलन है। यह रिश्ता तब तक सही नहीं चलेगा, जब दो लोग इसमें एक होने के बजाए दो रहेंगे।
    इस बंधन को मजबूत बनाने के लिए संचार-प्रेम और सम्मान की जरूरत होती है। ऐसे में सबसे अच्छा तो यही है कि आप एक बार अपनी पत्नी से बात करें। उन्हें बताएं कि आप भले ही अपनी नौकरी खो चुके हैं,

    लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल भी नहीं है कि आप कोई दूसरा काम नहीं कर सकते हैं। इतना ही नहीं, उनसे यह भी कहें कि जब तक आपको उपयुक्त अवसर नहीं मिल जाता, तब तक वह आपके काम करने और खर्चों में योगदान देने की कोशिश करें।


    मैं आपसे ऐसा करने के लिए इसलिए कह रहा हूं कि क्योंकि आपकी पत्नी ने आपको एक हारे हुए व्यक्ति के रूप में देखा है। उन्होंने देखा कि आप एक झटके के साथ अपना साहस और आत्मविश्वास खो देते हैं।

    ऐसे में उन्हें दोष देने के बजाए बेहतर नौकरी पाने के लिए और अपनी शादी को बचाने के लिए लड़ें। अपना बेस्ट दें और अपनी शादी को पहले की तरह मजेदार बनाएं।
    मेरी कहानी: मैंने अपनी पत्नी को 15 साल छोटे लड़के के साथ एक होटल में रात बिताते हुए पकड़ लिया, समझ नहीं आ रहा क्या करूं?

Latest Topics