• Shraddha Murder Case: 2 साल पहले पुलिस से की आफताब की शिकायत, सच हुआ श्रद्धा का 'टुकड़े-टुकड़े' होने का डर

    Written ByDeepika Pandey

    Published onWed, 23 Nov 2022

    Shraddha Murder Case: 2 साल पहले पुलिस से की आफताब की शिकायत, सच हुआ श्रद्धा का 'टुकड़े-टुकड़े' होने का डर

    Shradha Murder Case: बीते पिछले कुछ दिनों से श्रद्धा मर्डर केस पूरे देश की सुर्खियों में बना हुआ है. अपनी प्रेमिका के बेरहमी से कई टुकड़े करने वाले आफताब के बारे में एक चौकाने वाला खुलासा ये हुआ है कि श्रद्धा को आरोपी से अपनी जान का खतरा लंबे समय से बना हुआ था. इसकी पुष्टि उस पुलिस कंप्लेन से हुई है जो खुद श्रद्धा ने दो साल पहले थाने में दर्ज कराई थी. उस शिकायत की एक्सक्लूसिव कॉपी ज़ी न्यूज़ के पास है. 

    2020 में धमकी, 2022 में 'टुकड़े-टुकड़े'

    साल 2020 में श्रद्धा ने पुलिस को दी शिकायत में लिखा था - 'मैं श्रद्धा विकास वॉकर, आफ़ताब अमीन पूनावाला के खिलाफ शिकायत करना चाहती हूं, जो वर्तमान में बी-302, रीगल अपार्टमेंट में रहता है. जिसने आज मुझे जान से मारने की कोशिश की. वो हमेशा मुझे डराता और ब्लैकमेल करता है कि वो मुझे मार डालेगा, हमारे टुकड़े-टुकड़े करके फेक देगा. 6 महीने से वो लगातार मुझे मार रहा है, पहले मुझमें पुलिस के पास जाने की हिम्मत नहीं थी क्योंकि मैं बहुत डर गई थी. उसके पैरेंट्स को इस बारे में जानकारी है. वे हमारी रिलेशनशिप के बारे में भी जानते हैं. मैं उसके साथ रही क्योंकि हमें शादी करनी थी, उसने वादा किया था लेकिन अब मैं आफताब के साथ रहने के लिए तैयार नहीं हूं, मैं किसी भी तरह की शारीरिक यातना और नहीं सह सकती हूं. जब भी वह मुझे कहीं भी देखता है तो मुझे चोट पहुंचाता है.'

    इस बीच श्रद्धा मर्डर केस में दिल्ली पुलिस ने आफ़ताब के परिवार का बयान दर्ज किया है.पुलिस ने आफ़ताब के  परिवार से आफताब और श्रद्धा के रिश्तों को लेकर पूछताछ की है.

    आज का दिन काफी अहम


    श्रद्धा मर्डर केस में आज काफी अहम दिन है. श्रद्धा की हत्या कर उसके शव के 35 टुकड़े करने वाले आफताब का आज सच से सामना हो सकता है. दिल्ली के एफएसएल में आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट किया जाएगा. आफताब से श्रद्धा केस से जुड़े सवाल होंगे, इस पूरे प्रोसेस की वीडियोग्राफी कराई जाएगी. इसका मकसद कत्ल का मोटिव और सीक्वेंस ऑफ क्राइम जानना होगा. 22 नवंबर की शाम पॉलीग्राफ टेस्ट से पहले की प्रक्रिया पूरी की गई थी. इस दौरान आफताब के चेहरे पर पछतावे का कोई निशान नहीं था. वो बिल्कुल बेपरवाह और बेफिक्र नजर आया था.

Latest Topics