• पश्चिम बंगाल: बेटे ने की पिता की हत्या, फिर मां की मदद से 6 टुकड़े कर ठिकाने लगाया शव
     

    Written ByDeepika Pandey

    Published onTue, 22 Nov 2022

    पश्चिम बंगाल: बेटे ने की पिता की हत्या, फिर मां की मदद से 6 टुकड़े कर ठिकाने लगाया शव

    crime news: श्रद्धा वालकर हत्याकांड की तरह का ही एक मामला पश्चिम बंगाल में सामने आया है जहां एक बेटे ने अपने पिता की हत्या करने के बाद शव के टुकड़े टुकड़े कर उन्हें अलग अलग जगहों पर फेंक दिया. पुलिस ने पश्चिम बंगाल में नौसेना के एक पूर्व कर्मी की हत्या के सिलसिले में शनिवार को उनकी पत्नी और बेटे को गिरफ्तार किया है.

    दक्षिण 24 परगना जिले की बरुईपुर पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि आरोपियों का दावा है कि नौसेना के पूर्वी कर्मी उज्ज्वल चक्रवर्ती लगातार उन्हें प्रताड़ित किया करते थे.पुलिस के मुताबिक, चक्रवर्ती के बेटे ने 12 नवंबर को उन्हें धक्का दिया था जिसके बाद उनका सिर अपने बुरईपुर स्थित घर में एक कुर्सी से टकरा गया था और वह बेहोश हो गए थे.

    उन्होंने बताया कि इसके बाद बेटे ने कथित रूप से गला घोंटकर उनकी हत्या कर दी. बेटा एक पॉलीटेक्निक में बढ़ईगीरी काष्ठ कला का छात्र है. 55 वर्षीय चक्रवर्ती 12 साल पहले नौसेना से सेवानिवृत्त हो गए थे.


    आरी से किए पिता के शव के टुकड़े
    पुलिस के अधिकारी ने बताया, “चक्रवर्ती की हत्या करने के बाद उनकी पत्नी और बेटा उनके शव को स्नानघर में ले गए. इसके बाद उनके बेटे ने बढ़ईगीरी की क्लास किट से आरी निकाली और शव को छह हिस्सों में काट दिया और उन्हें आसपास के इलाकों में फेंक दिया.” उन्होंने कहा कि बेटे ने शव के टुकड़ों को प्लास्टिक में लपेटा और अपनी साइकिल से कम से कम छह चक्कर लगाए और 500 मीटर दूर उन्हें खास मल्लिक और देहिमेदान मल्ला इलाकों से फेंक दिया.


    कूड़े के ढेर में पड़ा मिला पैर
    उन्होंने कहा, “ चक्रवर्ती के दोनों पैर कूड़े के ढेर से मिल गए हैं, जबकि उनके सिर और पेट को देहिमेदान मल्ला के तालाब में फेंका गया था.” उनके शव के अन्य हिस्सों की तलाश की जा रही है. मां-बेटा पुलिस के शक के दायरे में तब आए जब उन्होंने 15 नवंबर की सुबह चक्रवर्ती के गुम होने की शिकायत दर्ज कराई. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, “ जिस वक्त वे बरुईपुर थाने आए थे, उसने हमारे ज़ेहन में शक पैद किया. हमें उनके बयानों में खामियां मिलीं और उनसे पूछताछ की. आखिरकार बेटे ने जुर्म कुबूल कर लिया.”


    परीक्षा के लिए नहीं दिए थे पैसे
    शुरुआती जांच में सामने आया है कि चक्रवर्ती ने एक परीक्षा में बैठने के लिए अपने बेटे को तीन हजार रुपये देने से इनकार कर दिया था. इसके बाद उनके बीच झगड़ा हुआ. अधिकारी ने बताया, “ चक्रवर्ती ने अपने बेटे को थप्पड़ मारा, जिसके बाद उसने अपने पिता को धक्का दिया

    और वह कुर्सी से सिर टकराने की वजह से गिर पड़े और बेहोश हो गए. इसके बाद बेटे ने उनकी गला घोंट कर हत्या कर दी.”


    श्रद्धा की हत्या कर किए थे 35 टुकड़े
    दिल्ली में भी हाल ही में इसी तरह से हत्या कर शव के टुकड़े करने का मामला सामने आया है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक, आफताब पूनावाला ने 18 मई को वालकर (27) को कथित तौर पर गला घोंटकर मार डाला था और उसके शरीर के 35 टुकड़े करके दक्षिण दिल्ली के महरौली स्थित अपने आवास पर लगभग तीन सप्ताह तक 300 लीटर के फ्रिज में रखे रखे और फिर उन्हें आधी रात के बाद शहर में कई जगहों पर फेंकता रहा था.

Latest Topics