Skynews100-hindi-logo

हरियाणा के गैंगस्टर काला जठेड़ी और अनुराधा शादी के बंधन में बंधे, पुलिसवाले बने बाराती

 
हरियाणा के गैंगस्टर काला जठेड़ी और अनुराधा शादी के बंधन में बंधे, पुलिसवाले बने बाराती
Kala Jatheri Wedding: लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के सदस्य गैंगस्टर काला जठेड़ी अपनी गर्लफ्रेंड अनुराधा संग आज यानी मंगलवार को दिल्ली में शादी के बंधन में बंध गए हैं। दोनों ने दिल्ली के द्वारका सेक्टर-3 में स्थित संतोष गार्डन बैंक्वेट हॉल में सात फेरे लिए। इसके लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए। समारोह स्थल से लेकर जठेड़ी व उसके रिश्तेदारों के आने-जाने वाले रूटों पर भी पुलिस की कड़ी सुरक्षा है।

दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल, क्राइम ब्रांच, स्वाट दस्ता, स्थानीय पुलिस, हरियाणा पुलिस की सीआइए, तीसरी बटालियन, राजस्थान पुलिस और राष्ट्रीय जांच एजेंसी के अधिकारियों शादी समारोह पर नजर बनाई हुए हैं।

बैंक्वेट हॉल के आसपास की गलियों में पुलिसकर्मियों की तैनाती
बता दें कि आज सुबह 6 बजे से ही बैंक्वेट हॉल के अंदर-बाहर और आसपास की सड़कों व गलियों में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई, जो जठेड़ी व समारोह में आने वाले उसके रिश्तेदारों को वहां से वापस अपने घर पहुंचने तक सुरक्षा में तैनात रहेंगे।

समारोह स्थल पर लगाए गए सीसीटीवी कैमरे
बैंक्वेट गेट के एंट्री गेट पर डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर और सीसीटीवी कैमरे लगाए गए। साथ ही, ड्रोन की व्यवस्था भी की गई और सशस्त्र कमांडो की भी तैनाती की गई।

स्पेशल सेल के एडिशनल पुलिस कमिश्नर प्रमोद सिंह कुशवाह ने बताया कि गैंगवार की घटना व संदीप के हिरासत से भाग जाने आदि की सभी संभावनाओं को देखते हुए रणनीति बनाई गई है। इस शादी समारोह में सीमित संख्या में लोगों को शामिल होने के लिए कहा गया। उनके आधार कार्ड व अन्य पहचान पत्र पुलिस को जमा करा दिए गए हैं।

शादी के लिए मिली छह घंटे की पैरोल
सात लाख रुपये के इनामी गैंगस्टर काला जठेड़ी गैंगस्टर ने लारेंस से हाथ मिलाने के बाद दिल्ली समेत आसपास के राज्यों में बड़े बदमाशों की श्रेणी में आ गया। उसे शादी के लिए सुबह 10 बजे से दोपहर चार बजे तक पैरोल मिली है। पैरोल के लिए तिहाड़ जेल के डीजी ने विरोध किया। द्वारका कोर्ट से पैरोल मांगने पर वहां पर उसकी अपील को खारिज नहीं किया गया।

गैंगस्टर काला जठेड़ी तिहाड़ जेल में है बंद
बता दें कि गैंगस्टर संदीप ऊर्फ काला जठेड़ी पर दिल्ली, राजस्थान, पंजाब और उत्तर प्रदेश में हत्या, डकैती, हत्या के प्रयास, जबरन वसूली और हथियार अधिनियम, सुपारी लेकर हत्या करने के 200 से ज्यादा आपराधिक मामले चल रहे हैं। वह एक बार हरियाणा पुलिस की हिरासत से भी भाग चुका है। गैंगस्टर ने दिल्ली पुलिस की हिरासत से अपने सहयोगी को भी भगाने की साजिश रची थी।